Loading...
Image
Image
View Back Cover

विराम की घोषणा एक नए भविष्य का सृजन

6 सरल चरणों में अर्थपूर्ण भविष्य का निर्माण

  • समीर दुआ - संस्थापक व सीईओ, इंस्टीट्यूट फ़ॉर जनरेटिव लीडरशिप, पुणे, भारत

भविष्य का पूर्वानुमान लगाने का सर्वश्रेष्ठ तरीका है इसका सृजन।

हममें से हर किसी का, हमारे जीवन के हर क्षेत्र में लगभग निश्चित, अपेक्षित और तयशुदा भविष्य मौजूद होता है। परंतु क्या यह भविष्य स्वीकार करने योग्य है?

यह पुस्तक पूरी सक्रियता से अपनी पसंद के भविष्य का सृजन करने के लिए 6-चरणों वाली सरल रूपरेखा प्रदान करती है। यह रचनात्मक नेतृत्व से जुड़ी उन विशेषताओं से परिचय कराती है, जिन्हें व्यवहार में लाया जाए तो आपके कार्यप्रदर्शन पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।

‘सक्रिय रूप से अपने लिए एक बेहतर भविष्य बनाना चाहते हैं तो यह पुस्तक रास्ता दिखा सकती है। एक शानदार पुस्तक!’ -गर्ड हॉफ़नर, एमडी तथा सीईओ, सीमन्स टेक्नोलॉजी एंड सर्विसेस प्रा. लि.

  • किरण मजूमदार शॉ द्वारा प्राक्कथन
  • रॉबर्ट (बॉब) डनहम द्वारा प्राक्कथन
  • आभार
  • प्रस्तावना: 5 ए.एम. क्लब

भाग 1 - आरंभ

  • परिचय
  • संवादों का महत्व
  • पारदर्शिता
  • व्यवधान जिनका सामना करना आवश्यक है

भाग 2 - एक दृष्टि में 6-कदमों वाली प्रक्रिया

  • ब्रेकडाउन की घोषणा
  • ‘जो है सो है’ (अभिकथनों) को समझिए
  • पूर्वनियत भविष्य
  • एक नए भविष्य का सृजन
  • छूटी हुई क्रियाओं की पहचान करना
  • क्रिया हेतु संवाद
  • निष्पादन
  • उपसंहार
  • परिशिष्ट 1: पुरानी और नई व्याख्याओं की तुलना
  • परिशिष्ट 2: ब्रेकडाउन घोषित करने तथा डिजाइन किए गए भविष्य को सृजित करने का प्रारूप
  • परिशिष्ट 3: भेद
समीर दुआ

समीर दुआ पूरी दुनिया में लोगों के जीवन में परिवर्तन लाने हेतु प्रतिबद्ध हैं और विश्वास करते हैं कि इस दुनिया में प्रत्येक व्यक्ति के पास प्रसन्नता, सफलता एवं असाधारण उपलब्धियों की संभावनाएं मौजूद हैं। वह लोगों को यह शक्ति प्रदान करते हैं कि वे जान सकें कि जीवन में वास्तव में किस बात से प्यार करते हैं और उसे उनके जीवन में हासिल करने हेतु सहयोग प्रदा ... अधिक पढ़ें

Also available in:

PURCHASING OPTIONS

ISBN: 9789386602688

₹ 325.00

ISBN: 9789386602695

₹ 325.00

ISBN: 9789386602701

₹ 325.00

For shipping anywhere outside India
write to customerservicebooks@sagepub.in