Loading...
Image
Image
View Back Cover

नगर और लोक नीति

भारत के लिए शहरी एजेंडा

यह पुस्तक भारत के लिए शहरीकरण कार्यसूची विकसित करने हेतु नगरों के आर्थिक सिद्धांत, और उनके कुशल प्रबंधन में अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय सर्वोत्तम कार्यप्रणालियों के उदाहरणों को अंकित करती है। यह आर्थिक विकास के लिए संवृद्धि को उत्प्रेरित करने और सार्वजनिक वित्त को उत्पन्न करने में शहरों की केंद्रीय भूमिका को मान्यता प्रदान करती है। सिद्धांत और प्रयोग के अनूठे संयोजन वाली यह पुस्तक भारत में शहरीकरण की चुनौतियों का सामना करने के लिए नीतिगत उपायों और सुधारों के प्रस्ताव रखती है।

  • प्राक्कथन
  • संदर्भ ग्रंथ सूची
  • अच्छे नगर प्रशासन हेतु संस्थागत रूपरेखा
  • नगर और लोकनीतिः भारत के लिए शहरी एजेंडा
  • शहरी भूमि का संसाधन स्वरूप में प्रयोग
  • शहरों के विकास और सेवाओं की वित्त व्यवस्था
  • नगर पर अधिकारिताः समावेशी शहरीकरण का निर्माण
  • अतिशहरीकरण की भ्रांति
  • विषय प्रवेश
  • स्थानिक नियोजन, परिवहन एवं भू-प्रयोजन
  • शहर एवं संघटना बाह्यताएं
प्रसन्न के. मोहंती

प्रसन्न के. मोहंती, भारतीय प्रशासनिक सेवा के 1979 संवर्ग के अधिकारी तथा आंध्र प्रदेश सरकार के मुख्य सचिव रह चुके हैं। इनकी शैक्षिक उपलब्धियों में सम्मिलित हैंः दिल्ली स्कूल ऑफ इकॉनॉमिक्स से अर्थशास्त्र में एम.ए., राजनीतिक अर्थशास्त्र में एम.ए. तथा बोस्टन विश्वविद्यालय से शहरी अर्थशास्त्र में पीएचडी उपाधि। ये हार्वर्ड विश्वविद्यालय में पीएचडी उपरांत ... अधिक पढ़ें

Also available in:

PURCHASING OPTIONS

For shipping anywhere outside India
write to customerservicebooks@sagepub.in