Loading...
Image
Image
View Back Cover

भारत में महिलाओं के विरुद्ध साइबर अपराध

  • देबारती हालदर - प्रोफ़ेसर, लीगल स्टडीज़ यूनाईटेडवर्ल्ड स्कूल ऑफ़ लॉ, अहमदाबाद, गुजरात
  • के. जयशंकर - प्रोफेसर और विभागाध्यक्ष, अपराध विज्ञान विभाग, रक्षा शक्ति विश्वविद्यालय (पुलिस और आंतरिक सुरक्षा विश्वविद्यालय), अहमदाबाद, गुजरात, भारत

यह पुस्तक किशोरवय युवतियों और महिलाओं को लक्ष्य करने वाले ऑनलाइन अपराधों पर आधारित सामाजिक-कानूनी शोध के क्षेत्र में महत्त्वपूर्ण योगदान है। यह पुस्तक बताती है कि किस प्रकार युवतियां और महिलाएं ट्रोलिंग, ऑनलाइन ग्रूमिंग, निजता पर अतिक्रमण, डराने-धमकाने, अश्लील साहित्य तथा वीडियो, यौनिक मानहानि, मॉर्फिंग, स्पूफिंग आदि की आसान शिकार बन जाती हैं।
 
लेखकों ने देश में चलने वाली विभिन्न उग्र बहसों को भी संबोधित किया है जैसे, महिलाओं की साइबर अपराध से सुरक्षा कैसे की जा सकती है; इनकी रोकथाम के लिए तथा कानूनी सहायता के सहायक के रूप में कौन-कौन से कदम उठाए जा सकते हैं और साइबर कानून कितने उपयोगी और सुलभ हैं। पुस्तक विद्वानों को परेशान करने वाले प्रश्नों की एक व्यापक शृंखला के विस्तृत उत्तर प्रदान करते हुए भविष्य की रूपरेखा तय करती है।
 

  • भूमिका
  • प्रस्तावना
  • आभारोक्ति
  • परिचय
  • साइबर जगत में वाक् एवं अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता
  • ट्रॉलिंग और लैंगिक आधार पर अवपीड़न
  • ऑनलाइन ग्रूमिंग
  • गोपनीयता का उल्लंघन
  • ऑनलाइन यौन अपराध
  • विस्मृति का अधिकार: सेवा प्रदाताओं की ज़िम्मेदारी
  • जांच, अभियोजन, गिरफ़्तारी और हिरासत के लिए प्रक्रियात्मक व्यवहार
  • अपराधों से निपटना
  • शब्दावली
  • अनुबंध
  • लेखकों का परिचय
देबारती हालदर

डॉ. देबारती हालदर अधिवक्ता एवं विधिवेत्ता हैं। वर्तमान में, वह यूनाइटेडवर्ल्ड स्कूल ऑफ लॉ, अहमदाबाद, गुजरात में रिसर्च ऑफिसर और सेंटर ऑफ साइबर विक्टिम काउंसलिंग (CCVC), भारत (www.cybervictims.org) की प्रबंध निदेशक हैं। उन्होंने कलकत्ता विश्वविद्यालय से LLB की है और अंतरराष्ट्रीय और संवैधानिक कानून में उनकी मास्टर की डिग्री मद्रास विश्वविद्याल ... अधिक पढ़ें

के. जयशंकर

प्रोफेसर के. जयशंकर वर्तमान में रक्षा शक्ति विश्वविद्यालय (पुलिस और आंतरिक सुरक्षा विश्वविद्यालय), अहमदाबाद, गुजरात, भारत में अपराध विज्ञान के प्रोफेसर और अपराध विज्ञान विभाग के प्रमुख हैं। इस वर्तमान पद से पहले, उन्होंने अपराध विज्ञान और आपराधिक न्याय विभाग, मनोनमनियम सुंदरानर विश्वविद्यालय, तिरुनेलवेली, तमिलनाडु, भारत में एक शिक्षक के तौर प ... अधिक पढ़ें

Also available in:

PURCHASING OPTIONS

For shipping anywhere outside India
write to customerservicebooks@sagepub.in